आत्मा का खुराक है भजन,जप, गुरुधाम में दान, सेवा । इनसे आत्मा पुष्ट होती है ।

आत्मा का खुराक है भजन,जप, गुरुधाम में दान, सेवा । इनसे आत्मा पुष्ट होती है ।