जहाँ तत्वज्ञान प्राप्त हो गया हो वहां साकार निराकार की बात हो सकती है क्या ..।

जहाँ तत्वज्ञान प्राप्त हो गया हो वहां साकार निराकार की बात हो सकती है क्या ..।